Shayari On Father And Daughter In Hindi | पिता और बेटी के लिए बेस्ट हिंदी शायरी

shayari on father and daughter in hindi | shayari on father in hindi | manoj muntashir shayari on father | paritosh tripathi shayari on father | gulzar shayari on father | shayari on father and daughter in english | shayari on father and son | punjabi shayari on father | shayari on father in english | shayari on father in urdu

Shayari On Father And Daughter In Hindi

shayari on father and daughter in hindi

बेटी और पिता का रिश्ता ही ऐसा होता है!!
वो अपना-अपना ख्याल नहीं रखते बल्कि!!!
एक दूसरे का ख़याल रखते हैं..!!!

मेरे प्यारे प्यारे पापा मेरे दिल में रहते पापा..
मेरी छोटी सी ख़ुशी के लिए...
सब कुछ सह जाते पापा..!!!

हर बेटी अपने पिता के लिए परी होती है।।
घर को खुशियों से भरने वाली फुलझड़ी होती है।।

बेटों से बिल्कुल कम नहीं होती है बेटिया..
ये बात, पापा हरदम बताते हैं..इसलिए वो..
बेटे-बेटी में भेद नहीं कर पाते हैं।।..

पापा ने ही सिखलाया।।
मुश्किलों से न घबराकर।।
मुश्किलों को आसान बनाकर।।
जीवन जीना क्या होता है..!!..

हर घडी में साथ निभाता।।
बहुत महान इंसान है।।
सच कहु तो वो भगवान है।।
पापा तो उसका प्यारा सा नाम है।।

पापा पल पल प्यार देते हैं अपनी..
जिंदगी हम पर वार देते हैं..!!

यू तो दुनिया के सारे दर्द हंस कर झेल लेता हू।।
मगर जब भी आपकी याद आती है..
आंखों में आए आंसुओं को रोके नहीं पाता हू..।।

बेटी की किसी ख्वाहिश पर एतराज़ नहीं करता!!
वो पिता ही है जो बेटी को कभी नाराज़ नहीं करता..!!

ऊगली पकड़ कर चलना सिखाया हमको..
अपनी नींद देके चैन से सुलाया हमको..
अपने आंसू छुपा के हसाया हमको..!!!

बेटी के लिए ना जाने कितनी..
परेशानियाँ सहता है पिता!!
अपनी फूल जेसी बेटी के लिए..
ढेरों मुश्किलों में तपता है पिता..।।

उनके रहते जीवन में कोई गम नहीं होता..
एक पापा का प्यार कभी कम नहीं होता।।..

चाहे हो कितना भी कठिन रास्ता..
शहर हो कि कितना भी अनजान!!
पापा तुमने कभी अपनी गुड़िया को..
अनजानों में तन्हा नहीं रहने दिया..!!

चाहे राह किसी भी हो लोगो की भीड़ में..
खुद को छोटा न समझना!!
जब हो पापा का प्यार आपके साथ!!
तब खुद को कभी तनहा न समझना..!!

बस बेटी की ख़ुशी ही इसका ख्वाब होता हैं..
किसी ने सच ही कहा हैं बाप बाप होता हैं..।।

अंधेरी जिंदगी की राह दिखाने वाली मशाल हैं।।
जीवन की परेशानियों से बचाने वाली ढाल हैं।।
मेरे पापा मेरे लिए मिसाल हैं।।..


रिश्ता हो तो बाप बेटी जैसा वो...
ख्वाहिश नहीं बताती की पिता परेशान न हो..!!
और पिता बेटी के परेशान होने से पहले ही...
ख्वाहिश पूरी कर देता है...!!!

मेरी इज़्ज़त..मेरी शोहरत..मेरा रुतबा..और मेरे मान है पिता
मुझ को हिम्मत देने वाले..मेरे अभिमान हैं मेरे पिता..!!

काश पापा मैं बड़ी हीं नहीं होती।।
काश दूरियों की ये मजबूरी नहीं होती।।
आपके कंधे पर बैठकर घूमती शहर।।।
ना कोई जिम्मेदारी होती..ना कोई फ़िक्र होती।।।

एक लड़की की ज़िन्दगी में कभी दुख न आते..
अगर बेटी को बाप से अलग हो कर यू..
दूसरे घर जाना न पड़ता..!!

जब तकलीफों का तूफान उठता है।।
पापा आप मुझे बहुत याद आते हो।।
पापा आप मेरे वह अनोखे जादूगर हो।।
जो तकलीफों को गायब कर जाते हो..!!

हर बेटी की पहचान होता है पिता।।
हर बेटी का अरमान होता है पिता।।
बेटियों के लिए पूरा आसमान होता है पिता।।..

जो पिता लाखों दुख झेल कर आखों से एक..
आसू नहीं निकलता हैं वो पिता एक बेटी की..
बिदाई पे अपने आंसू को रोक नहीं पाता हैं..।।

पापा खुशियां हैं दुनिया हैं संसार हैं।।..
बिन पापा के अधूरा ये जीवन है..!!

अपने सपनों को अधूरा छोड़...
बेटी का हर ख़्वाब पूरा लरता है..!!
कोई लड़का नहीं कर सकता...
उस लड़की के लिए ऐसा जो...
उसका बाप करता है..!!!

अज़ीज़ भी वो है.. नसीब भी वो हैं..
दुनिया की भीड़ में करीब भी वो हैं..
उनकी दुआओ से ही चलती है ज़िंदगी..
क्युकी खुदा भी वो है..तक़दीर भी वो हैं..!!

पापा ने ही सिखलाया।।
मुश्किलों से ना घबराकर।।
मुश्किलों को आसान बनाकर।।
जीवन जीना क्या होता है।।।

अपनी खुशियों को छोड़कर..
आपने मेरे सपने हैं सजाए..
खुशनसीब हूं मैं।।
दुनिया के सबसे अच्छे पापा पाए।।..

इस जग में आपसा प्यारा..!!
दूसरा नहीं जग में हमारा..!!
हर पल मेरा साथ निभाते!!.!
हमारे लिए कुछ भी कर जाते..!!

बेटों से बिल्कुल कम नहीं होती है बेटिया।।
ये बात, पापा हरदम बताते हैं।।।
इसलिए वो..बेटे-बेटी में भेद नहीं कर पाते हैं!!..!!.

हर बेटी के भाग्य में पिता होता हैं पर..!!
हर पिता के भाग्य में बेटी नहीं होती..।।

हमें पढ़ाओ न रिश्तों की कोई और किताब..
पढ़ी है बाप के चेहरे की झुर्रियां हम ने..!!

बेटी न हो कोई फूल हो..
जैसे पूरे घर को वो...
हरा भरा रखती है...!!

पिता वो है जो आपको गिरने से पहले थाम लेता है।।
और आपको फिर से कोशिश करने के लिए कहता है।।

बेटी की हर ख्वाहिश कभी पूरी नहीं होती।।
फिर भी बेटिया कभी अधूरी नहीं होती।।..

बेटी वो फूल है आंगन का जिसे देख कर!!
पिता के होंठ मुस्कुराते है।।
और जीवन महक जाता है..!!!..

कहीं नाजुक उंगलियां न चटक जाए..!!
इस डर से पापा गोद नहीं लेते थे..!!
पर आज मेरी उंगलियों को थाम.!!!
हर राह में मेरा साथ देते हैं.!!

प्यार आपका दुलार आपका।।
है मुझ को सबसे प्यारा।।
दुनिया के हर रिश्ते में..
एक अनमोल रिश्ता है हमारा..!!..!!

पिता के बिना जिंदगी वीरान होती हैं..
तनहा सफ़र में हर राह सुनसान होती हैं..
जिंदगी में पिता का होना जरुरी हैं पिता..
के साथ से हर राह आसान होती हैं।।..

देर से आने पर वो खफा था आखिर मान गया।।
आज मैं अपने बाप से मिलने कब्रिस्तान गया।।

एक टिप्पणी भेजें

Please do not enter any spam link in the comment box.

और नया पुराने